प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की श्री राम मंदिर भूमि-पूजन समारोह में उपस्थिति को व्यक्तिगत नहीं, बल्कि, इस अप्रतिम शुभ अवसर का उत्सव मनाने के लिए हमारे सामूहिक प्रतिनिधि के रूप में देखा जाना चाहिए।

5 अगस्त, 2020 को अयोध्या में राम मंदिर-भूमिपूजन सिर्फ़ हिंदू धर्मावलंबियों के लिए एक भावनात्मक उत्सव का क्षण ही नहीं है, इस दिन भारत के इतिहास में एक सुनहरा अध्याय जुड़ने जा रहा है। राम मंदिर एक ऐसे स्थान पर पुनर्जीवित होने जा रहा है, जिसे हिंदू मानते हैं कि यह उनके सबसे पूजनीय भगवान … Continue reading प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की श्री राम मंदिर भूमि-पूजन समारोह में उपस्थिति को व्यक्तिगत नहीं, बल्कि, इस अप्रतिम शुभ अवसर का उत्सव मनाने के लिए हमारे सामूहिक प्रतिनिधि के रूप में देखा जाना चाहिए।