राष्ट्र-कवि रामधारी सिंह ‘दिनकर’ …. मृत्युंजय !!

बिहार के बेगूसराय जिले का एक साधारण सा सिमरिया गाँव, कविता की दुनिया के नक्शे में असाधारण महत्व रखता है. क्‍यूँकि इसी मिट्टी से ओज़ की कविता के एक सूर्य का जन्म हुआ था, जिसका नाम था, रामधारी सिंह दिनकर. दिनकर जब कविता की धरती पर आए तो भावों के परिंदे जाग उठे. भाषा ने नयी … Continue reading राष्ट्र-कवि रामधारी सिंह ‘दिनकर’ …. मृत्युंजय !!